अन्तरिक्ष में होने वाली तमाम घटनाएं लोगों के लिए हमेशा ही कौतूहल का विषय रही है। आज भी अन्तरिक्ष के कई ऐसे अनसुलझे रहस्य (Unsolved mystery) हैं जो खगोलशास्त्री पता लगाने का प्रयास निरंतर कर रहे हैं। खगोलशास्त्रियों को आज एक और नई उम्मीद की किरण नज़र आई है। अन्तरिक्ष विज्ञान (Space Science) में रूचि रखने वालों के लिए भी यह बेहद ही दिलचस्प रहा। दरअसल बुधवार के दिन खगोलशास्त्रियों द्वारा ब्लैक होल की पहली वास्तविक तस्वीर (Black Hole First Real Picture) जारी की गई।

Black Hole की पहली तस्वीर

Black Hole First Image

जी हां वही ब्लैक होल (Black Hole) जिसके बारे में हम सभी ने बचपन में पढ़ा है। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि अंतिरक्ष में कई करोड़ों आकाशगंगाएं (Galaxies) हैं। उन्ही में से एक आकाशगंगा (Galaxy) में हमारी धरती और सूर्य है। ब्लैक होल (Black Hole) की घटना भी हमने पढ़ी है। लेकिन आज असल में ब्लैक होल (Black Hole) कैसा दिखता है यह सामने आया है। अन्तरिक्ष वैज्ञानिकों (Space Scientists) ने पहली बार किसी ब्लैक होल की तस्वीर खीचने में कामयाबी पाने का दावा किया है। इतना ही नहीं पहली बार वास्तविक ब्लैक होल की तस्वीर भी जारी की गई है।

एतिहासिक क्षण

Galaxy

दरअसल ब्रूसेल्स, शंघाई, टोक्यो, वॉशिंगटन, सैंटियागो और ताइपे में एक साथ प्रेस वार्ता आयोजित की गई। इस प्रेस वार्ता में वैज्ञानिकों ने बताया कि दुनिया भर के 8 रेडियो टेलिस्कोप की मदद से यह तस्वीर ली गई है। साल 2017 के अप्रैल माह में इन सभी से डाटा एकत्र किया गया था। इसके बाद इवेंट होराइजन टेलिस्कोप (EHT) की मदद से इसे बनाया जा सका। वैज्ञानिकों ने इसे बेहद बड़ी उपलब्धि बताया। उनका कहना है कि इसके बाद ब्रह्माण्ड के अनसुलझे रहस्यों को समझने के तरीके में क्रन्तिकारी बदलाव आएंगे। उन्होंने कहा यह बेहद ही एतिहासिक क्षण है। खगोलविदों ने इसे ‘ब्रेकथ्रू’ (Breakthrough) करार दिया है।

विशालकाय काला गोला

Black Hole Breakthrough

खगोलशास्त्रियों ने बताया कि यह ब्लैक होल प्रथ्वी से 5 करोड़ 50 लाख प्रकाश वर्ष दूर स्थित है। इसके बारे में वैज्ञानिकों ने बताया कि, ब्लैक होल के चारों तरफ धूल और गैस का वातावरण है। एक बेहद विशालकाय काले गोले के पीछे से नारंगी रंग की गैस और प्लाज्मा निकलता दिखाई दे रहा है। वैज्ञानिकों ने बताया इसे एम87 (M87) कहा जाता है। ब्लैक होल की इस वास्तविक तस्वीर के लिए लोग टकटकी लगाकर बेसब्री से इसका इन्तेजार कर रहे थे। अन्तरिक्ष वैज्ञानिकों का कहना है कि भविष्य में आने वाली पीढ़ियों के लिए यह बेहद ही महत्वपूर्ण शोध सामग्री (Search Material) साबित होगी।

क्या है Black Hole

Black Hole First Image

ब्लैक होल अन्तरिक्ष में होने वाली एक ऐसी खगोलीय घटना है, जिसका गुरुत्वाकर्षण (Gravity) अत्यधिक शक्तिशाली होता है। इसका चुम्बकीय क्षेत्र (Magnetic Field) इतना ज्यादा शक्तिशाली होता है कि इसकी सीमा में आने वाले कोई भी वास्तु इससे नही बच सकती। यह सिर्फ वस्तुओं को ही नहीं बल्कि प्रकाश तक को खींचने की ताकत रखता है। इसकी सीमा में दाखिल होने के बाद कोई भी वस्तु इसके प्रभाव से नहीं बच सकती। इसकी सीमा में आने प्रकाश को भी यह सोख लेता है।

ताजा जानकारी पाने के लिए जुड़े रहिये BNR News के साथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *