0

महाराष्ट्र में सरकार गठन (Government Formation In Maharashtra) को लेकर सियासी हलचल बेहद तेज हो गई हैं। शिवसेना (Shiv Sena), कांग्रेस (Congress) और NCP की बैठकों पर बैठकें आयोजित की जा रही है। वहीं आज यानी शुक्रवार 22 नवंबर को महाराष्ट्र में सरकार का ऐलान किया जा सकता है। दरअसल कल यानी 21 नवंबर को देर रात शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) अपने बेटे के साथ NCP पार्टी के प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) से मुलाक़ात करने उनके घर पहुंचे थे। इस दौरान शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) और एनसीपी नेता अजित पवार (Ajit Pawar) भी मौजूद रहे। वहीं आज दोपहर 2 बजे तीनों दलों की बेहद अहम निर्णायक बैठक आयोजित की गई है।

Shiv Sena chief Uddhav Thackerayगौरतलब है कि शिवसेना (Shiv Sena), कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) की इस फ़ाइनल बैठक के बाद महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन (Government Formation In Maharashtra) की घोषणा की जा सकती है। हालांकि तीनों पार्टियों की आपसी सहमति तो लगभग तय हो गई है लेकिन अभी तक इस नई सरकार में विभागों के बंटवारे नहीं किए गए हैं। तीनों दलों ने कई चरणों में बैठकें कर कॉमन मिनिमम प्रोग्राम (Common Minimum Program) पर चर्चा की। वहीं अब शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की विभागों को लेकर भी मांग सामने आने लगी हैं। हर पार्टी मलाईदार विभाग पर अपना वर्चस्व चाहता है।

Shiv Sena chief Uddhav Thackeray
Shiv Sena chief Uddhav Thackeray

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शिवसेना (Shiv Sena), कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) की गठबंधन सरकार के मंत्रिमंडल में 45 मंत्री होंगे। इस मंत्रिमंडल में शिवसेना और एनसीपी के 15-15 मंत्री होंगे जबकि कांग्रेस के 12 मंत्री शामिल रहेंगे। इस गठबंधन सरकार (Government Formation In Maharashtra) में मुख्यमंत्री शिवसेना का ही रहेगा। उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) मुख्यमंत्री हो सकते हैं। फिलहाल इसे लेकर अभी तक कुछ भी स्पष्ट नहीं है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे होंगे या फिर आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray)। वहीं राज्य में कांग्रेस और एनसीपी का एक-एक उपमुख्यमंत्री होगा। उपमुख्यमंत्री के लिए कांग्रेस और एनसीपी की तरफ से बाला साहेब थोराट (Balasaheb Thorat) तथा अजित पवार (Ajit Pawar) का नाम सामने आया है।

Congress President Sonia Gandhi
Congress President Sonia Gandhi

इस नई गठबंधन सरकार में शिवसेना (Shiv Sena) ने भले ही मुख्यमंत्री पद हासिल कर लिया हो लेकिन उसके हाथ से महत्वपूर्ण विभाग निकल गए हैं। फिलहाल अभी तक जो भी फ़ॉर्मूला तय हुआ है उसके अनुसार अजित पवार (Ajit Pawar) के पास गृह मंत्रालय, जयंत पाटिल (Jayant Patil) के पास वित्त मंत्रालय और छगन भुजबल (Chhagan Bhujbal) को पीडब्ल्यूडी (PWD) विभाग दिया जा सकता है। इसके अलावा कांग्रेस के थोराट राजस्व मंत्रालय संभाल सकते हैं।

 

ताजा जानकारी पाने के लिए जुड़े रहिये BNR News के साथ।

0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *