निगम की तोड़-फोड़

इंदौर। इंदौर नगर निगम द्वारा जर्जर मकानो को तोड़ने के लिए कारवाही जारी है। इंदौर नगर पालिका जहां  शहर के जर्जर मकान तोड़ने में लगी हुई है वही दूसरी तरफ निगम की नज़रें कई व्यापारियों पर भी है। निगम की तानाशाही और तोड़-फोड़ से आम जनता और व्यापारी संघ परेशान है क्योंकि बहुत जल्द इंदौर का कपड़ा मार्केट (Indore Cloth Market) और जेल रोड भी निगम का शिकार होगा। रोड को चौड़ा करने के लिए निगम कपड़ा मार्केट की लगभग 200 दुकानों को अपना शिकार बनाएगी। निगम का मानना है कि रोड चौड़ी होने से वाहनों की आवा-जाही सुधरेगी और इंदौर के यातायात में परिवर्तन आएगा।

शहर के यातायात को सुधारने का विचार निगम का बहुत बढ़िया है, लेकिन निगम के इस फैसले से लाखों लोग बेघर हो जाएंगे और कई व्यापारी जिनकी कई वर्षो से दुकाने हैं वे बेरोजगार हो जायेंगे।

कालानी नगर चौराहे से हटाई मौसा जलेबी की दुकान

mosa jalebi kalani nagar
मौसा जलेबी की दुकान पर इंदौर नगर निगम का पंजा

नगर निगम ने शहर के कालानी नगर चौराहे पर लेफ्ट टर्न को चौड़ा करने के लिए इंदौर की प्रसिद्ध मौसा जलेबी भण्डार (Mosa Jalebi Bhandar) की दुकान के साथ अन्य चार दुकानों को हटाया। जोन क्रमांक 16 के अधिकारी ने बताया कि कालानी नगर चौराहे पर स्थित मौसा जलेबी की पुरानी दुकान को पूरी तरह से तोड़ दिया गया है। इसी के साथ मौसा जलेबी भण्डार से लगी चार और दुकानों के चार-चार फीट के हिस्से को तोड़ा गया है।

विडियो देखे :

ताजा जानकारी पाने के लिए जुड़े रहिये BNR News के साथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *