मध्यप्रदेश के इंदौर शहर के देपालपुर में जैन अतिशय क्षेत्र बनेडिया जी स्थित है। यह अतिशय क्षेत्र इंदौर शहर से 45 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। जैन अतिशय क्षेत्र बनेडिया जी बहुत चमत्कारी माना जाता है। यहां की मान्यता है कि इस मंदिर को देवों द्वारा, आसमान के रास्ते उड़ा कर लाया गया था। इस मंदिर की नींव का ना होना इस बात का प्रमाण है। यहां तक पहुंचने के लिए बस सुविधा उपलब्ध है। वैसे तो इंदौर शहर में कई जैन मंदिर हैं, लेकिन बनेडिया जी बहुत चमत्कारी अतिशय क्षेत्र माना जाता है और यह जैन समाज का प्रसिद्ध तीर्थ स्थल है।

नए साल की शुरुआत

अतिशय क्षेत्र में हर पूर्णिमा को मेला लगता है। इसके अलावा प्रतिवर्ष 30 दिसंबर को इंदौर शहर से जैन श्रद्धालु बनेडिया जी तक पद यात्रा निकालते हैं। 1 तारीख को यानी नए साल की शुरुआत पर बनेडिया जी अतिशय क्षेत्र में कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इंदौर शहर से सैकड़ों की तादाद में पदयात्री यहां पहुंचते हैं, साथ ही आसपास के क्षेत्र से और दूसरी जगह से भी कई श्रद्धालु इस मंदिर पहुंचते हैं। अतिशय क्षेत्र में दर्शन करने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। इस मंदिर के दर्शन करने सिर्फ जैन वर्ग के लोग ही नहीं बल्कि अन्य वर्ग के लोग भी यहां पहुंचते हैं और दर्शन लाभ लेते हैं। नए साल की शुरुआत में इस मंदिर में बेहद भव्य तरीके से कई सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

 

तालाब की सुंदरता

मंदिर के पास ही एक तालाब स्थित है। इस तालाब की सुंदरता लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करती है। इस तालाब का पानी बहुत ही निर्मल और स्वच्छ है। इस तालाब के किनारे खड़े होकर लोग सूर्योदय और सूर्यास्त का नजारा देखते हैं। सूर्योदय और सूर्यास्त का मनमोहक नजारा लोगों के स्मृति पटल पर अमिट छाप छोड़ता है। लोग इस दृश्य को कभी भुला नहीं पाते और हमेशा ही इसकी तरफ खिंचे चले आते हैं। बनेडिया जी का यह मंदिर अपनी चमत्कारी होने के कारण और कई मान्यताओं के चलते बहुत प्रसिद्ध माना जाता है, लेकिन इसके पास स्थित तालाब के कारण यह एक पिकनिक स्पॉट भी है। दर्शन करने के अलावा कई लोग यहां पिकनिक मनाने भी पहुंचते हैं। इस मंदिर में सारी सुविधाएं जैन समाज द्वारा की गई है। नए साल पर यहां श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है। उनकी सारी व्यवस्थाएं जैन समाज द्वारा की जाती है।

 

रुकने की व्यवस्था

यहां रुकने के लिए धर्मशाला भी है, जो इस मंदिर में ही बनी हुई है और यहां हजारों लोग ठहर सकते हैं। सभी के भोजन की व्यवस्था भी जैन समिति द्वारा की जाती है। नए साल पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों के दौरान भोजन के लिए दाल बाफले का आयोजन भी किया जाता है। इंदौर शहर से बनेडिया जी तक के रास्ते में कई गांव और पिकनिक स्पॉट पढ़ते हैं। सबसे पहले जो पिकनिक स्पॉट आता है वह है यशवंत सागर बांध। यशवंत सागर एक बहुत ही अच्छा पिकनिक स्पॉट है। इंदौर शहर और इसके आसपास से काफी लोग यहां पिकनिक मनाने पहुंचते हैं। यह बांध काफी खूबसूरत नजारों से भरपूर है साथ ही यहां भुट्टे खाने का भी अपना अलग मजा है। इसके आगे देपालपुर, आगरा और हातोद जैसे कई गांव पड़ते हैं। नए साल पर पड़ने वाली ठंड के दौरान खिली-खिली धूप में सफर का आनंद दोगुना हो जाता है।

 

कांच की बेहद सुंदर नक्काशी

बनेडिया जी अतिशय क्षेत्र में मूलनायक जैन तीर्थंकर अजितनाथ भगवान की प्रतिमा विराजित है, जो कि मुख्य द्वार के सामने से ही दिखती है। इसके अलावा समस्त तीर्थंकरों की प्रतिमाएं यहां विराजित है। मुख्य मंदिर के बायीं ओर एक छोटा मंदिर बना हुआ है, जहां जैन तीर्थंकर पार्श्वनाथ की प्रतिमा विराजित की गई है। पदयात्रा कर मंदिर पहुंचने वाले जैन श्रद्धालुओं के लिए मंदिर समिति द्वारा विशेष रूप से विशेषताएं की जाती है। इस मंदिर में कांच की बेहद सुंदर नक्काशी की गई है। कांच से की गई नक्काशी बहुत ही सुंदर और आकर्षक है, जो लोगों को मंत्रमुग्ध कर देती है। हर व्यक्ति इस सुंदर नक्काशी को और पूरे मंदिर क्षेत्र को अपने कैमरे में कैद करना चाहता है। इस मंदिर में वैसे तो हमेशा ही भीड़ लगी रहती है, लेकिन पूर्णिमा के दिन मेला लगने की वजह से यहां श्रद्धालुओं का हुजूम उमड़ पड़ता है। साथ ही नए साल के दौरान इस मंदिर में रंगारंग कार्यक्रम के कारण कई श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं।

 

सभी की मनोकामनाएं पूर्ण

इंदौर से बनेडिया जी अतिशय क्षेत्र पहुंचने में तकरीबन डेढ़ घंटे का समय लगता है। जैन अतिशय क्षेत्र बनेडिया जी पहुंचने पर सारी थकान मानो एक क्षण में दूर हो जाती है और यहां का अद्भुत नजारा देख सभी अपने दुख दर्द को भूल जाते हैं। यह कहा जाता है कि इस मंदिर में विराजित भगवान श्री अजितनाथ सभी की मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं। इसी वजह से लोग यहां अपनी-अपनी मन्नत और मुरादें लेकर आते हैं। यहां पर पिकनिक मनाने आए लोग भी इस मंदिर में दर्शन किए बिना नहीं रह पाते। कई बार तो लोग दूर-दूर से यहां पर सूर्योदय और सूर्यास्त का अद्भुत नजारा देखने भर ही आते हैं। अगर आप अभी तक इंदौर शहर के बनेडिया जी अतिशय क्षेत्र नहीं गए हैं, तो एक बार इस मंदिर के दर्शन करने अवश्य जाएं , और इस मंदिर में दर्शन लाभ के साथ तालाब का सुंदर नजारा भी जरुर देखें। साथ ही यहां पर सूर्योदय और सूर्यास्त का अद्भुत नजारा दिल में हमेशा हमेशा के लिए कैद कर लें।

 

बनेडिया जी के सफ़र का हमारा वीडियो देखे

 

 

गूगल मैप द्वारा बनेडिया जी पहुचने का रास्ता