पीएम ने दिया इस्तीफ़ा

इस लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में भारतीय जनता पार्टी को प्रचंड बहुमत प्राप्त हुआ। शुरूआती रुझानों में ही समझ आ गया कि देश की जनता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) के काम से बेहद खुश है। नतीजे आने के बाद सिर्फ भाजपा मुख्यालय ही नहीं बल्कि पूरे देश में जश्न मनाया जा रहा है। एनडीए (NDA) को 353 सीटें मिलने के बाद (NDA won Election) शुक्रवार 24 मई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के महामहिम से मुलाकात कर अपना इस्तीफ़ा सोंपा। पीएम के साथ उनके पूरे मंत्रिपरिषद ने भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) को अपना त्यागपत्र दिया। सभी का त्यागपत्र स्वीकार करते हुए महामहिम ने सभी से नई सरकार के गठन होने तक अपने कार्यभार को संभालने का आग्रह किया।

लोकसभा भंग करेंगे महामहिम

पीएम के इस्तीफे के बाद अब प्रधानमंत्री मोदी अपने शपथ ग्रहण होने तक कार्यवाहक पीएम के तौर पर अपना कार्यभार संभालेगे। त्यागपत्र देने से पहले राजधानी दिल्ली में केन्द्रीय कैबिनेट की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में मौजूदा लोकसभा (Lok Sabha) को भंग करने का प्रस्ताव पारित किया गया। वहीं पीएम सहित मंत्रिपरिषद के त्यागपत्र सौंपे जाने के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अब इस 16वीं लोकसभा को भंग करेंगे। इसके बाद राष्ट्रपति द्वारा देश के सबसे बड़े दल को अपनी सरकार बनाने का आमंत्रण दिया जाएगा। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ आगामी 30 मई को नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ ग्रहण कर सकते हैं।

NDA ने बनाया कीर्तिमान

गौरतलब है कि मौजूदा 16वीं लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को पूरा हो जाएगा। लोकसभा का कार्यकाल पूर्ण होने से पहले नई सरकार के गठन की प्रक्रिया शुरू करना अनिवार्य होता है। इस बार के चुनाव में एनडीए (NDA) ने 353 सीटें जीतकर नया कीर्तिमान गढ़ दिया है। अब अगले दो दिनों के भीतर राष्ट्रपति से मुलाक़ात कर तीनों चुनाव आयुक्त नवनिर्वाचित सांसदों की सूची सोंपेंगे। फिलहाल अपनी शपथ से पहले आगामी 28 मई को प्रधानमंत्री मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी का दौरा करेंगे। वाराणसी की जनता का आभार प्रकट करने के लिए पीएम मोदी वाराणसी जाएंगे।

स्टाफ से मिले पीएम

इससे पहले शुक्रवार को ही पीएम मोदी ने अपने कार्यकाल (PMO) के समस्त स्टाफ से भी मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने 5 साल तक कड़ी मेहनत और लगन से कार्य करने के लिए अपने सभी कर्मचारियों और कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया। प्रमुख सचिव नृपेंद्र मिश्रा, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, अतिरिक्त प्रमुख सचिव पीके मिश्रा और सचिव भास्कर खुल्वे सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने इस दौरान पीएम का अभिवादन किया।

ताजा जानकारी पाने के लिए जुड़े रहिये BNR News के साथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *