5 जुलाई 2019

4 जुलाई की तरह 5 जुलाई को भी सुबह से हल्की-हल्की बौछार पड़ती रही। हालांकि सुबह 9 बजे से मौसम साफ़ हो गया लेकिन आसमान में बदल छाए रहे। दोपहर में एक बार फिर बौछार पड़ना शुरू हो गई। हालांकि यह बौछार कुछ समय के लिए हुई। इसके बाद शाम को हुई हल्की बारिश शहर को सराबोर कर दिया। इसके बाद रात साढ़े 11 बजे शुरू हल्की बारिश ने देखते ही देखते झमाझम बारिश का रूप ले लिया जो रात 1 बजे तक होती रही। रात 1 बजे के बाद से लगातार रिमझिम बारिश का दौर सुबह तक चलता रहा। खबर लिखे जाने तक बारिश का दौर जारी है।

4 जुलाई 2019

इंदौर शहर में मानसून की शुरुआत हो चुकी है और लगातार बारिश भी हो रही है। इंदौर शहर में 1 जुलाई से रोजाना रिमझिम-रिमझिम बारिश होती आ रही है। शहर भर में 4 जुलाई की रातभर बारिश की झड़ी लगी रही। 4 जुलाई की सुबह से ही बादल छाए रहे लेकिन बारिश नहीं हुई। दोपहर के समय हल्की बौछार शुरू हुई जो रुक-रुक कर देर शाम तक जारी रही। इसके बाद रात 10 बजकर 30 मिनट पर झमाझम बारिश शुरू हो गई जो रात साढ़े 12 बजे तक होती रही। इस दौरान कई जगहों पर जलजमाव की समस्या देखने को मिली। गीताभवन चौराहे पर पानी भर गया जिससे आने-जाने वाले राहगीरों को काफी मुश्किलों को सामना करना पड़ा। ऐसी ही परेशानी खजराना चौराहे और मूसाखेड़ी में भी देखने को मिली। पॉश इलाके की बात की जाए तो कालानी नगर में कई जगहों पर पानी भर जाने से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

रात साढ़े 12 बजे के बाद रुक-रुक कर रिमझिम बारिश होती रही। रिमझिम बारिश का सिलसिला रात भर जारी रहा। रात भर चली इस बारिश का दौर सुबह साढ़े 7 बजे जाकर थमा। 4 जुलाई को इंदौर शहर के साथ आस-पास के कई गांवों में भी तेज बारिश हुई।

24 जून 2019

मध्यप्रदेश के लिए रविवार (Sunday) का दिन बेहद ही सुहाना रहा। आखिरकार मानसून को तरसती निगाहों को सुकून मिल ही गया। रविवार का दिन था और भरी दोपहर में अचानक ही काले-काले बादलों ने आसमान में अपना डेरा जमा लिया। पूरे इंदौर (Rain In Indore) शहर में अंधेरा छा गया और तेज हवाओं ने पूरे शहर को अपनी आगोश में ले लिया। थोड़ी ही देर में लोगों को गर्मी से तो रहत मिल गई लेकिन बारिश के लिए सभी की निगाहें बड़ी ही बेसब्री से इन्तेजार कर रही थीं।

Storm in Indore

कुछ ही समय में शहर में झमाझम बारिश (Rain In Indore) शुरू हो गई। मौसम विभाग ने पहले ही जानकारी दी थी कि प्रदेश और इंदौर शहर में 24 जून को मानसून दस्तक देगा। वहीं 23 जून रविवार को मौसम विभाग की जानकरी को सही साबित करने के लिए मानसून ने अपनी पहली झलक दिखला दी। हालांकि मानसून के इस ट्रेलर मात्र ने ही सारी सरकारी व्यवस्थाओं की पोल खोल कर रख दी। हर बार की तरह इस बार भी मानसून के पहले इंदौर (Rain In Indore) में हुई थोड़ी सी बारिश ने कई जगह जल भराव की समस्या से लोगों को अवगत करा दिया। वहीं कुछ स्थानों पर तेज हवाओं के कारण पेड़ उखड़ गए।

Storm in Ratlam

कहीं बिजली के तार टूट कर गिरे, तो कहीं बिजली ही गुल (Power Cut) हो गई। मौसम की इस करवट से जहां व्यवस्थों की पोल खुली वहीँ लोगों को बेहद ही सुकून मिला। कई लोगों ने इस बारिश (Rain In Indore) का आनंद भी उठाया। हालांकि तेज हवाओं के बीच हुई इस बारिश ने कई लोगों के लिए थोड़ी मुश्किल भी जरूर पैदा कर दी।

Rain In Indore

इंदौर के अलावा मध्यप्रदेश के कई स्थानों पर भी झमाझम बारिश हुई। रतलाम में हुई तेज बारिश से कई स्थानों पर पानी भर जाने की समस्या हुई। तो बालाघाट जिले के डोंगरगांव के शिव नगर में बिजली गिरने की खबर भी सामने आई। शिव नगर में बिजली यानी गाज गिर जाने से दो बच्चों की जीवन लीला समाप्त हो गई। बताया जा रहा है कि अक्षय 15 वर्ष और आयुष 10 वर्ष पिता रवि गोस्वामी अपनी बकरियां चराने गए थे। उसी दौरान बिजली गिर जाने से दोनों उसकी चपेट में आ गए। दोनों बुरी तरह से झुलस गए और उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

Rain In Indore

इसके अलावा रीवा के नौवस्ता चौकी के मध्येपुर गांव में भी बिजली गिर जाने से दो बच्चे बुरी तरह से झुलस गए। मध्येपुर गांव में दो सगे भाई राजीव कोल 15 वर्ष और रजनीश कोल गाज गिर जाने बुरी तरह से झुलस गए। दोनों को संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल (Sanjay Gandhi Memorial Hospital) में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज जारी है।

Short Circuit

इससे एक दिन पहले यानी शनिवार को नौगांव में 31, रीवा में 16, सागर में 14, उमरिया में 8, मलाजखंड में 3, और सतना में 2 मिमी। बारिश दर्ज की गई। अंचल के कई स्थानों पर रविवार 23 जून को तेज आंधी के साथ झमाझम बारिश हुई। रतलाम में तेज आंधी की वजह से पेड़ उखड़ गया जिससे बिजली के तार टूट गए। इस वजह से कई घंटों तक बिजली गुल रही। वहीं खरगोन के हाट में लगे कई तंबू उखड़ गए। इंदौर शहर में भी तेज आंधी और बारिश (Rain In Indore) कई स्थानों पर प्रोग्राम के लिए लगे टेंट उखड़ गए।

धार जिले में तकरीबन ढेड घंटे तक झमाझम बरिश हुई। इस दौरान डेढ़ सेंटीमीटर वर्षा दर्ज की गई। इस तेज आंधी और बारिश की वजह से अभी तक तकरीबन 10 पेड़ और 8 बिजली के खंभे गिर जाने की खबर सामने आई है।

ताजा जानकारी पाने के लिए जुड़े रहिये BNR News के साथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *