लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के दौरान सभी राजनीतिक दल पूरे जोर-शोर से चुनाव प्रचार में लगे हैं। आज चौथे चरण का मतदान होना है। वहीं इस बार के चुनाव के प्रचार के लिए कांग्रेस पार्टी (Congress) ने ‘चौकीदार चोर है’ का कैम्पेन चला रखा था। चौकीदार चोर है का नारा कांग्रेस पार्टी की हर सभा में सुनाई दे रहा था। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) अपनी हर चुनावी रैली में चौकीदार चोर है का नारा लगवाते फिर रहे थे। यह नारा उन्होंने राफेल (Rafale Deal) मामले को लेकर निकाला था। लेकिन देश में चौथे चरण के मतदान के दिन ही सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से इस पर जवाब मांगा है।

कोर्ट की अवमानना

सोमवार 29 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) की अवमानना करने के एक मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को जवाब प्रस्तुत करना है। इसके लिए सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को नोटिस जारी कर उनसे सवाल किया था कि उन पर कोर्ट की अवमानना का मुकदमा चलाया जाए? दरअसल राफेल डील को लेकर राहुल गांधी ने अपनी एक सभा के दौरान कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने भी अब यह मान लिया है कि चौकीदार ही चोर है।

राहुल ने मांगी माफ़ी

राहुल के इस बयान पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि कोर्ट ने इस मामले में कोई भी टिपण्णी नहीं की है। हाल ही में राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में अपना एक हलफनामा दाखिल किया था। इस हलफनामे में राहुल ने अपने बयान पर खेद प्रकट किया था। उन्होंने कहा था कि चुनावी माहौल में ऐसा बयान गलती से दिया गया। इसके बाद राहुल गांधी के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (BJP) की नेता मीनाक्षी लेखी (Meenakshi Lekhi) ने अपराधिक अवमानना की शिकायत दर्ज करवाई है।

मीनाक्षी की शिकायत

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने ‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर बीती 23 अप्रैल को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नोटिस थमाया था। भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी की शिकायत के बाद यह नोटिस जारी किया गया था। हालांकि कोर्ट ने कहा कि राहुल गांधी को कोर्ट में उपस्थित होने की जरूरत नहीं है। राहुल गांधी ने यह बयान अमेठी से नामांकन भरने के बाद दिया था। राहुल ने अपने बयान में कहा था, “सुप्रीम कोर्ट ने मान लिया है कि राफेल में कुछ भ्रष्टाचार है और ये भी कि चौकीदार ने ही चोरी करवाई है।”

ताजा जानकारी पाने के लिए जुड़े रहिये BNR News के साथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *